Domain kya hai | डोमेन नेम क्या है?

domain kya hai hinditechno.in

वेबसाइट बनाने के लिए सबसे पहले आपको Domain चाहिए | Domain kya hai, Domain एक ऐसा नाम है जिससे आपकी वेबसाइट की पहचान होती है यह आपकी वेबसाइट का Address है या इसे हम URL भी कहते हैं |

अगर हम किसी भी वेबसाइट को ओपन करना चाहते हैं तो हमें क्या करना होगा हमें इंटरनेट ब्राउज़र में जाकर और एड्रेस बार में उस वेबसाइट का एड्रेस या Domain नेम लिखना होगा जिससे वह एड्रेस उस से रिलेटेड सभी इंफॉर्मेशन हमें दिखा देगा जो उस वेबसाइट पर सेव दोगी

अब चलिए हम शुरू करते हैं अपने इस आर्टिकल को जिसमें हम आपको बताएंगे कि Domain नेम की जरूरत क्यों पड़ती है इसके साथ हम जानेंगे कि किस किस प्रकार और कौन सा डोमिन हमें लेना चाहिए।

Domain kya hai?


Domain काम कैसे करता है ?
डोमेन कितने प्रकार के होते है ?
Domain रजिस्टर कैसे करे ?

Domain kya hai?

इंटरनेट की भाषा में अगर हम कहे तो Domain एक एड्रेस होता है किसी भी वेबसाइट का या किसी भी ब्लॉक का जिसे यूआरएल क्या एड्रेस बार में डालने पर हमें उस वेबसाइट से जुड़ी हुई सभी जानकारियां इंटरनेट या ब्राउज़र हमें दिखा देता है जब भी हम किसी भी वेबसाइट का एड्रेस डालते हैं तो कंप्यूटर या इंटरनेट एक न्यूमेरिकल रिक्वेस्ट जनरेट करता है जिसे हम IP-address बोलते हैं वह आईपी हर एक इंटरनेट यूजर का हर एक वेबसाइट का डिफरेंट होता है|

सरवर के पास अभी कोई आईपी एड्रेस की रिक्वेस्ट जाती है तो उस पर से डाटा या कोई भी वेबसाइट बनी हुई है या किसी भी प्रकार का उस पर डाटा उपलब्ध है वह यूजर के सामने या जो व्यक्ति उस आईपी ऐड्रेस की रिक्वेस्ट डाल रहा है उसके सामने सारी डिटेल्स क्या उस टो मैन को डालने वाले को सारी इनफार्मेशन उसकी स्क्रीन पर आ जाती है|

असल में डोमेनिक आईपी एड्रेस ही होता है लेकिन हम इंसानों को उन्हें याद करने में बड़ी दिक्कत होती है इसलिए कंप्यूटर की भाषा में उसे डोमेन नेम के नाम से जाना जाता है या उसे यूज किया जाता है ताकि हम इंसान उसे अच्छे से इस्तेमाल कर सके याद रख सके|

Domain kya hai, Domain को DNS भी कहा जाता है जिसका मतलब Domain Name System होता है।

डोमेन काम कैसे करता है ?

अब शायद आपको समझ में आ गया होगा कि डोमेन नेम क्या होता है या किसी भी वेबसाइट का नाम क्या होता है या वेबसाइट का एड्रेस क्या होता है |

अब हम बात करने वाले हैं कि डोमेन काम कैसे करता है जब भी हम किसी डोमेन को ब्राउज़र के एड्रेस बार में डालते हैं तो वह एक रिक्वेस्ट जनरेट करता है जो कि उस डोमेन से जुड़े हुए सर्वर पर जाती है और वहां पर जितना भी डाटा होता है या जो भी डाटा उसी वेबसाइट बनाने वाले ने एक्सेस करने के लिए डाला होगा वह सारा हम एक्सेस कर सकते हैं |

एक उदाहरण के तौर पर हम समझते हैं कि Domain काम कैसे करता है मान लीजिए आपने facebook.com का Domain लिखा उसके बाद आपके सामने क्या आता है स्क्रीन पर फेसबुक का मेन होम पेज ओपन हो जाता है जिस पर लिखा होता है साइन इन कीजिए या साइन अप कीजिए |

अगर आपके पास facebook.com का लॉगइन आईडी और पासवर्ड होगा तो आप उस में डाल कर उस वेबसाइट को एक्सेस कर सकते हैं यह कैसे होगा जब आप लॉगइन आईडी पासवर्ड डालकर क्लिक करेंगे तब वह एक रिक्वेस्ट सर्वर को भेजेगा और सरवर रिक्वेस्ट को रिपीट कर कर एक्सेस देकर हमें लॉगइन करवा देगा |

Domain कितने प्रकार के होते है

domain names hinditechno.com

आज के समय में अगर हम बात करें कि Domain कितने प्रकार के होते हैं तो इसकी कोई लिमिट नहीं है क्योंकि आजकल कस्टम यूआरएल या कस्टम डोमेन का ज्यादा जमाना आ चुका है जिसमें की बहुत ही प्रकार के डोमेन नेमस आते जा रहे हैं |

जैसे पहले कुछ लिमिटेड डोमैंस होते थे लेकिन अब अनेकों प्रकार के डोमेन नेम्स आने लगे हैं और इनका चलन भी बढ़ता जा रहा हैजेसे .com .net .org .in .us .edu .xyz .online .store etc. कहने का मतलब Domain 2 part में रहते है: Second Level Domain ओर Top Level Domain

जो Second Level Domain (SLD) होता है वो वेब्सायट का नाम होता है ओर को Top Level Domain (TLD) वो डोमेन का extension होता है।

पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाला डोमेन है .com लेकिन आजकल अलग अलग देश संस्थान अपने हिसाब से डोमेन इस्तेमाल कर रहे हैं जैसे इंडिया का डोमेन हैं .in

जैसे आपने हमारी वेबसाइट का नाम भी देखा है hinditechno.in हमने .in इस्तेमाल किया है क्योंकि यह वेबसाइट हमने इंडियन यूजर पर फोकस करके बनाई है ताकि हम उन्हें ज्यादा से ज्यादा जानकारी दे सकें |

ऐसे ही अलग अलग कंट्री के Domain होते हैं जैसे डॉट .us अमेरिका के लिए, .ca कैनेडा के लिए और संस्थानों के लिए .org, एजुकेशनल इंस्टीट्यूट के लिए .edu इस्तेमाल करते हैं |

Domain रजिस्टर कैसे करे ?

अब हम बात करने वाले हैं कि डोमेन नेम को रजिस्टर कैसे करें अगर आप वेबसाइट बनाने का मन बना चुके हैं |

तो आपको Domain Name की जरूरत पड़ेगी और यह कैसे रजिस्टर करना है यही हम आपको बताने वाले हैं | इसके लिए बहुत सारी websites है | Unpar click kar ke aap dekh sake hai ki unka Domain kya hai.

जिन पर जाकर आप अपने वेबसाइट के नाम को डालकर सर्च कर सकते हैं | उनके सर्च बार में jaakar aap check kar sakte hai ki unka Domain kya hai और उससे आपको एक जानकारी मिलेगी कि यह Domain अब उपलब्ध है या नहीं है |

उपलब्ध का मतलब है पहले से इसे किसी ने रजिस्टर तो नहीं किया है यह आपको चेक करना जरूरी है |

और यह किस किस एक्सटेंशन के साथ available है, वह आपको सारे ही एक्सटेंशन के बारे में बता देगा जिस जिसके साथ आप का डोमेन available होगा और फिर आप उसे रजिस्टर कर सकते हैं |

इसके लिए कुछ मुख्य वेबसाइट है जैसे Hostinger, Godaddy, Namecheap और Hostgator,  इन सभी वेबसाइट पर जाकर आप अपने डोमेन को सर्च कर सकते हैं और रजिस्टर कर सकते हैं

और जब भी आप किसी डोमेन को रजिस्टर करते हैं तो आप उसके सोल ओनर होते हैं |

उम्मीद करते हैं आपको यह जानकारी पसंद आई होगी Domain kya hai अगर आपको यह जानकारी पसंद आई है तो कृपया इसे लाइक करें और शेयर करें और नीचे कमेंट में अपने सुझाव देकर हमें और नए टॉपिक्स पर ब्लॉक बनाने के लिए प्रेरित करें |

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *